सीएम योगी ने किया बड़ा ऐलान, कहा- नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से एक लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

उत्तर प्रदेश: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एशिया के सबसे बड़े नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास करेंगे। गौतमबुद्ध नगर के साथ पूरे क्षेत्र में निवेश की असीम संभावनाएं बनेंगी। उत्तर प्रदेश देश का इकलौता प्रदेश होगा, जहां पांच इंटरनेशनल एयरपोर्ट होंगे।

ये बातें प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के शिलान्यास स्थल पर कहीं। वह कार्यक्रम की तैयारी का जायजा लेने के लिए जेवर पहुंचे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र के लोग तीस-पैंतीस साल से एयरपोर्ट का इंतजार कर रहे थे, लेकिन राजनीतिक इच्छाशक्ति के अभाव के कारण उनकी यह मांग पूरी नहीं हुई। 2017 में प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद जेवर में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने का निर्णय लिया गया।

एयरपोर्ट का पहला चरण दस हजार करोड़ रुपये का होगा। पूरी परियोजना में 34 से 35 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे। एक लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। 2024 में एयरपोर्ट शुरू हो जाएगा। यह देश का पहला प्रदूषण मुक्त एयरपोर्ट होगा। एमआरओ, मेडिकल डिवाइस पार्क, फिल्म सिटी, ईस्टर्न, वेस्टर्न फ्रेट कारिडोर, मल्टी माडल लॉजिस्टिक हब से क्षेत्र में बड़े निवेश के साथ रोजगार की असीम संभावनाएं होंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में इंफ्रास्ट्रक्चर पर जबरदस्त काम हुआ है। क्षेत्रीय एयर कनेक्टिविटी पर तेजी से काम हुआ है। जो क्षेत्र पिछड़े माने जाते थे, आज वहां एयरपोर्ट बन रहे हैं। चित्रकूट, आजमगढ़, श्रीवास्ती, अलीगढ़, मुरादाबाद आदि में 11 एयरपोर्ट बन रहे हैं। 2017 में प्रदेश में मात्र दो एयरपोर्ट थे, 25 शहर एयरकनेक्टिविटी से जुड़े थे। पांच सालों में प्रदेश में नौ एयरपोर्ट शुरू हो चुके हैं।