सीएम योगी ने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का किया अनावरण, कही ये बात, पढ़ें

सीएम  योगी आदित्यनाथ अपने सात जिलों के दौरे के कार्यक्रम के तहत बुधवार को गौतमबुद्ध नगर में मौजूद हैं। आज सीएम ग्रेटर नोएडा के दादरी पहुंचे और यहां उन्होंने सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया। हालांकि उनके दौरे से पहले से ही मिहिर भोज के वंशज होने का दावा करने वाले राजपूतों और गुर्जरों में गतिरोध बुधवार को भी जारी है। यहां सीएम योगी ने एक जनसभा को भी संबोधित किया। पढ़िए उनके भाषण की खास बातें….

 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, देश में गुलामी का कारण एक ही था क्योंकि हम अलग-अलग थे। हम जाति के बंधन में बंधे थे। हम संप्रदाय के बंधन में बंधे थे। कोई भी विदेशी आक्रांता आता था, वो हमारी बहू-बेटियों के साथ छेड़छाड़ करता था।

सीएम ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 2017 से पहले कोई कांवड़ यात्रा नहीं निकलने दी जाती थी। दुर्गा पूजा का त्योहार नहीं मनाने दिया जाता था। तब कोई विदेशी आक्रमणकारी तो यहां शासन नहीं कर रहा था, लेकिन आज की स्थिति बदली है। आज सभी व्यवस्था हो रही है। 2017 में हमारी सरकार बनने के तुरंत बाद अवैध बूचड़खाने को बंद करा दिया गया। बहन-बेटियों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, राष्ट्रधर्म सबसे पहला धर्म होना चाहिए। अगर देश की सुरक्षा पर कोई आंच आई, तो हम सब सुरक्षित नहीं होंगे। इसलिए हमें राष्ट्रधर्म को सर्वोपरि रखना होगा।

 मूर्ति के नीचे लगी पट्टिका पर गुर्जर शब्द किसी ने मिटा दिया था। इस बात के सामने आते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया और आनन-फानन दोबारा उसे लिखवाया गया। वहीं दादरी में आज सुबह भी सैनिटाइजेशन का काम निगम ने किया। दूसरी ओर सुबह से हो रही बारिश के चलते कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे लोग अपने को वहां रखी कुर्सियों से बचा रहे हैं।