सीएम योगी आत्‍मनिर्भर बनीं महिलाओं से करेंगे संवाद, कही ये बात, पढ़ें

राज्य में महिला सशक्तीकरण का एक और सशक्त प्रयास शुक्रवार से शुरू होगा। 40 हजार स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी करीब साढ़े चार लाख महिलाएं संगठित होकर स्वरोजगार की तरफ पहला कदम बढ़ाएंगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को ऑनलाइन फंड ट्रांसफर के साथ ही से स्वरोजगार से जुड़ीं महिलाओं से वर्चुअल संवाद भी करेंगे। राज्य के विभिन्न जिलों में बैंकिंग सखी, पीडीएस दुकानों का संचालन, बिजली बिल वसूली तथा सामुदायिक शौचालय के संचालन में लगी महिलाओं से मुख्यमंत्री का यह संवाद होगा।उ.प्र. राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन नवगठित 40 हजार समूहों के खाते में रिवाल्विंग फंड के रूप में प्रत्येक के खाते में 15 हजार रुपये भेजेगा।

इसके साथ ही 2606 समूहों के खाते में प्रति समूह 1.10 लाख रुपये कम्युनिटी इंवेस्टमेंट फंड ट्रांसफर किया जाएगा। इस धनराशि से इन समूहों से जुड़ी 31 हजार से अधिक महिलाएं अपना स्वरोजगार शुरू करेंगी। रिवाल्विंग फंड तथा कम्युनिटी इंवेस्टमेंट फंड के रूप में समूहों को  88.86 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। जिन 40 हजार समहों को रिवाल्विंग फंड शुक्रवार को दिया जाएगा उन  समूहों को तीन महीने बाद कम्युनिटी इंवेस्टमेंट फंड मिलेगा। तब तक ये महिलाएं समूह की गतिविधियां, बैंक खाते का संचालन और लेन-देन की प्रक्रिया में दक्ष हो जाएंगी।

ग्राम्य विकास विभाग द्वारा शाम को आयोजित होने वाले उ.प्र. आजीविका मिशन के इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ होंगे। अनुपूरक पुष्‍टाहार के उत्‍पादन व आपूर्ति के सापेक्ष फतेहपुर व उन्‍नाव की महिलाओं को एकीकृत बाल विकास सेवा द्वारा प्रति इकाई 45.60 लाख रुपये का चेक दिया जाएगा। अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह, मिशन निदेशक भानुचंद्र गोस्वामी गुरुवार को दिनभर इस कार्यक्रम की तैयारियों से संबंधित बैठकें करते रहें।