लोकल फॉर वोकल का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगरा के कुम्हार शिल्प कारों से की मन की बात

आगरा से शिव कुमार प्रजापति की खास रिपोर्ट

आज आगरा में कुम्हार शिल्पीकार मिट्टी के बर्तन बनाने वाले लोगों से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की मन की बात। ताज नगरी आगरा में एक बहुत बड़ा समूह कुम्हार शिल्पी कार मिट्टी के बर्तन बनाने वाले लोगों का है यहां कुम्हार जाति के लोग मिट्टी के बर्तन मिट्टी की मूर्तियां बनाकर उनको विक्रय कर अपने और अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं बहुत ही गरीब तबके का माना जाता है।

यह समूह एक मिट्टी का बर्तन बनाने के लिए कुम्हार को पूरे 24 घंटे लग जाते हैं तब जाकर एक मिट्टी का बर्तन बन पाता है उसके बाद वह मार्केट में जाकर विक्रय होता है और जो धनराशि एकत्रित होती है उससे एक गरीब कुम्हार का घर चल पाता है आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगरा में स्थित नाला कंस खार मोहल्ले में मिट्टी के बर्तन बनाने वाले कुम्हार लोगों से अपनी मन की बात कही और उनके कार्यों की भी देश के प्रधानमंत्री ने सराहना करते हुए जमकर तारीफ भी की जिससे कुम्हार जाति के लोगों में खुशी का माहौल देखने को मिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी मन की बात करते हुए लोकल फॉर वोकल का भी जिक्र किया।


इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश माटी बोर्ड कला के अध्यक्ष धर्मवीर प्रजापति भी मौजूद रहे धर्मवीर प्रजापति ने शिल्पी कार मिट्टी के बर्तन बनाने वाले कारीगरों को बढ़ावा देने के लिए बहुत ही प्रयास किए हैं धर्मवीर प्रजापति ने लोगो से की अपील मिट्टी के बनाए हुए बर्तनों का ही उपयोग करना चाहिए जिससे लोगों को कोई भी बीमारी नहीं होगी,और साथ ही जो शिल्पी कार हैं मिट्टी के बर्तन बनाने वाले लोगों को ज्यादा से ज्यादा रोजगार मिल सकेगा।

केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद देश में प्रधानमंत्री के तौर पर अवाम ने नरेंद्र मोदी को चुना और देश के प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपने मन की बात करना शुरू किया। हर क्षेत्र के लोगों से अपने मन की बात करना शुरू किया देश के अलग-अलग जगहों पर लोगों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी मन की बात करते हैं।

जिस क्षेत्र में जो व्यक्ति कार्य करने वाले लोग है जो अच्छा व सुंदर कार्य करते हैं उन लोगों की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके कार्यों की सराहना करते हैं और उनकी तारीफ ही करते हैं अपने मन की कहते है जैसे कि शिल्पीकार हो मिट्टी के बर्तन बनाने वाले लोग हैं मिस्त्री हो कारीगर हो सर्विसमैन हो या फिर सड़क पर रेडी लगाने वाले लोग ही क्यों ना हो नरेंद्र मोदी हर किसी से अपनी मन की बात करते हैं,